Motivational story in hindi प्रभु पर भरोसा तो हर परेशानी दूर

Motivational story in hindi प्रभु पर भरोसा तो हर परेशानी दूर

Motivational story in hindi प्रभु पर भरोसा तो हर परेशानी दूर

 

आज आपको  एक ऐसी भगवान की  लीला से  परिचित कर आऊंगी  कि आपको स्वतः ही भगवान पर विश्वास होने लगेगा कि भगवान ने जो हमारे लिए सोचा है या जो हमारी जिंदगी में हो रहा है वह सब उसकी रजा में हो रहा है अगर हम उसकी रजा में रहना सीख पाए तो हमें जिंदगी में कभी दुख का अनुभव होगा ही नहीं मैं मानती हूं हम लोग  इंसानी जीव हैं और परेशान भी जल्दी होते हैं खुश भी जल्दी होते हैं पर  दुख या परेशानी की घड़ी में  प्रभु के ऊपर से भरोसा  ना छोड़िए एक वही है जब कोई साथ नहीं देता तो वह साथ देता है 

 

भगवान् की Exchange offer

 

एक बार एक दुखी भक्त अपने ईश्वर से शिकायत कर रहा था। “आप मेरा ख्याल नहीं रखते ,मै आपका इतना बड़ा भक्त हूँ।

 

आपकी सेवा करता हूँ।रात-दिन आपका स्मरण करता हूँ।फिर भी मेरी जिंदगी में ही सबसे ज्यादा दुःख क्यों?

 

परेशानियों का अम्बार लगा हुआ है।एक ख़तम होती नहीं कि दूसरी मुसीबत तैयार रहती है।दूसरो कि तो आप सुनते हो।उन्हें तो हर ख़ुशी देते हो।देखो आप ने सभी को सारे सुख दिए हैं,

मगर मेरे हिस्से में केवल दुःख ही दिए।

भगवान् उसे समझाते, *”नहीं ऐसा नहीं है बेटा सबके अपने-अपने दुःख -परेशानिया है।

अपने कर्मो के अनुसार हर एक को उसका फल प्राप्त होता है। यह मात्र तुम्हारी गलतफहमी है।

लेकिन नहीं। भक्त है कि सुनने को राजी ही नहीं। आखिर अपने इस नादान भक्त को समझा -समझा कर थक चुके भगवान् ने एक उपाय निकाला वे बोले।

“चलो ठीक है मै तुम्हे एक अवसर और देता हूँ, अपनी किस्मत बदलने का।

यह देखो यहाँ पर एक बड़ा सा , पुराना पेड़ है।

इस पर सभी ने अपने -अपने दुःख-दर्द और तमाम परेशानियों,तकलीफे, दरिद्रता, बीमारियाँ तनाव, चिंता आदि सब एक पोटली में बाँध कर उस पेड़ पर लटका दिए है।

जिसे भी जो कुछ भी दुःख हो , वो वहा जाए और अपनी समस्त परेशानियों की पोटली बना कर उस पेड़ पर टांग देता है। तुम भी ऐसा ही करो , इस से तुम्हारी समस्या का हल हो जाएगा।

“भक्त तो खुशी के मारे उछल पडा।”धन्य है प्रभु जी आप तो। अभी जाता हूँ मै। “

तभी प्रभु बोले, “लेकिन मेरी एक छोटी सी शर्त है।”

” कैसी शर्त भगवन ?”

*”तुम जब अपने सारे दुखो की , परेशानियों की पोटली बना कर उस पर टांग चुके होंगे तब उस पेड़ पर पहले से लटकी हुई किसी भी पोटली को तुम्हे अपने साथ लेकर आना होगा।

तुम्हारे लिए ..”

भक्त को थोड़ा अजीब लगा लेकिन उसने सोचा चलो ठीक है।

फिर उसने अपनी सारी समस्याओं की एक पोटली बना कर पेड़ पर टांग दी।चलो एक काम तो हो गया अब मुझे जीवन में कोई चिंता नहीं।

लेकिन प्रभु जी ने कहा था की एक पोटली जाते समय साथ ले जाना।

ठीक है। कौनसी वाली लू …यह छोटी वाली ठीक रहेगी।

दुसरे ही क्षण उसे ख्याल आया मगर पता नहीं इसमे क्या है। चलो वो वाली ले लेता हूँ। अरे बाप रे! मगर इसमे कोई गंभीर बिमारी निकली तो।

नहीं नहीं ..अच्छा यह वाली लेता हूँ। मगर पता नहीं यह किसकी है और इसमे क्या क्या दुःख है।”

हे भगवान् इतना कन्फ्यूजन।वो बहुत परेशान हो गया सच में ” बंद मुट्ठी लाख की ..खुल गयी तो ख़ाक की।

जब तक पता नहीं है की दूसरो की पोटलियों में क्या दुःख -परेशानियां ,चिंता मुसीबते है तब तक तो ठीक लग रहा था। मगर यदि इनमे अपने से भी ज्यादा दुःख निकले तो।

हे भगवान् कहाँ हो।

भगवान् तुरंत आ गए ” क्यों क्या हुआ पसंद आये वो उठा लो …” ” नहीं प्रभु क्षमा कर दो .. नादान था जो खुद को सबसे दुखी समझ रहा था ..

यहाँ तो मेरे जैसे अनगिनत है , और मुझे यह भी नहीं पता की उनका दुःख -चिंता क्या है ….मुझे खुद की परेशानियों , समस्याए कम से कम मालुम तो है …, नहीं अब मै निराश नहीं होउंगा …सभी के अपने -अपने दुःख है ,

मै भी अपनी चिंताओं -परेशानियों का साहस से मुकाबला करूंगा , उनका सामना करूंगा न की उनसे भागूंगा .।

धन्यवाद प्रभु आप जब मेरे साथ है तो हर शक्ति मेरे साथ है।

भगवान् ने कहा यह *एक्सचेंज ऑफर* लौकिक नहीं।

सदा के लिए सबके लिए खुली है।

 

Motivational story in hindi प्रभु पर भरोसा तो हर परेशानी दूर

1 thought on “Motivational story in hindi प्रभु पर भरोसा तो हर परेशानी दूर”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares