प्रेरणादायक कहानी – परोपकार का असली फल कैसे मिलता है

प्रेरणादायक कहानी – परोपकार का असली फल कैसे मिलता है

नमस्कार, आप सब का तहे दिल शुक्रिया, मेरे हर ब्लॉग पर आप सब इतना प्यार दे रहे है, ये सब देख कर बहुत अच्छा लगता है, तभी तो आप सब से प्रेरणा लेकर मुझे आगे बढ़ने में सहायता मिलती है, दिल करता की हमेशा आप के लिए ऐसी पोस्ट लेकर आया करूँ जिसमे आप सब को जीवन के लिए कुछ ना कुछ मोटिवेशन जरुर मिले, ताकि आप अपनी लाइफ को सहज तरीके से जी सके और आप बाकी लोगो की मदद भी कर सके इसलिए आज आप सब के लिए लेकर आई हूँ प्रेरणादायक कहानी – परोपकार का असली फल कैसे मिलता है, जीवन को प्रेरित करती शानदार कहानिया, मोटिवेशन स्टोरीज लाइफ में बदलाव के लिए 

परोपकार की कहानी 

तो ये कहानी शुरू होती है एक गाँव की जहाँ कुछ गाँव वाले एक साथ मिलकर एक सांप को मार रहे थे, तभी उसी जगह से एक संत गुजर रहे थे तो उन्होंने वहाँ भीड़कर देखकर रुक कर देखा की आखिर ये गाँव वाले आखिर क्या कर रहे है, तो संत उस भीड़ में आगे बढ़कर जाकर देखने लगे तो सब लोग सांप को मार रहे थे, उसी समय संत ने पूछा की आप सब मिलकर इस सांप को क्यों मार रहे हो, कर्मवश ये भी तो एक आत्मा ही है, जान तो इसमें भी है, इसे भी भगवान ने बनाया है लेकिन तभी एक लड़का बोला की अगर ये आत्मा ही है तो ये हमें काटता क्यों है 

इस पर संत ने बड़े प्यार से उस लड़के को समझाया की देखो अगर आप इस सांप को मारोगे तो ये भी तो अपने बचाव के लिए तुम्हे कटेगा ही, अगर तुम इस को परेशान नहीं करोगे तो ये भी तुम्हे परेशान नहीं करेगा, गाँव के सभी लोग संत का बड़ा आदर सम्मान करते थे इसलिए सब ने संत का कहना मान कर इस सांप को नहीं मारा और सब वापस अपने अपने काम को लौट गए 

कुछ दिन के बाद वही संत एक दिन घाट पर स्नान करने जा रहे थे लेकिन तभी रास्ते में उन्हें एक बड़ा सांप फन फैलाये खड़ा दिखाई दिया, संत ने बड़ी कोशिश की वो उसे हटा दे लेकिन सांप था की टस से मस नहीं हुआ, इसके बाद संत ने वो रास्ता बदलकर दूसरा रास्ता चुनकर घाट की तरफ चल पड़े, लेकिन जब स्नान करने के बाद संत उसी पुराने रास्ते से आने लगे तो देखा की वही बरसात की वजह से एक खड्डा बना हुआ था अगर वो उसी रास्ते से जाते तो शायद बड़ी दुर्घटना हो सकती है लेकिन सांप की वजह से वो इस दुर्घटना से बाल बाल बच गए

तो देखा आपने परोपकार का असली फल आपको कैसे मिलता है, संत ने उस दिन गाँव वालो से सांप की जान बचायी थी लेकिन इस सांप ने भी संत की जान बचा ली थी, तो इस कहानी से शिक्षा मिलती है की हमे इस संसार में प्राणियों की मदद करनी चाहिए और बस फिर भगवान् इस चीज़ को आपको वापस जरुर करता है 

 

Motivational Short Story In Hindi शब्दों का दर्द

 

नींद पूरी ना होने से हो सकता है आपकी सेहत को ये नुक्सान

4 Comments

Comments are closed.