कैसे तनाव के क्षण मजबूत लोगों पर भी हो जाते हैं हावी

कैसे तनाव के क्षण मजबूत लोगों पर भी हो जाते हैं हावी

कई बार ज़िन्दगी में लोगों के पास सब कुछ होता है पर उसके बावजूद भी तनाव के साथ उनके ऊपर हावी हो जाते हैं और वह आत्महत्या कर लेते हैं उनमें से ही अगर हम आज देखे तो एक इतना बड़ा कलाकार Sushant Singh Rajput जिसने आज आत्महत्या कर ली, उसके पास क्या नहीं था शान शौकत रुतबा पैसा इज्जत क्या यह सब चीजें उसे रोक पाई और अगर नहीं रोक पाए तो क्या कमी रह गई कि उसको आत्महत्या करनी पड़ी
सुशांत सिंह राजपुत आपनी माता जी के काफी करीब रहे है, ये पता चलता है जब 3 जून को अपनी instagram पोस्ट में Sushant Singh Rajput ने अपनी माँ को याद करते हुए उनकी फोटो के साथ कुछ इमोशनल विचारो को भी प्रगट किया था 
कैसे तनाव के क्षण मजबूत लोगों पर भी हो जाते हैं हावी
कई बार जिंदगी में एक अच्छे दोस्त की कमी रह जाती है एक दोस्त के साथ हम सब कुछ अपना बांट सकते हैं कई बार माता-पिता पत्नी और बच्चे हमारी उन परेशानियों की को नहीं समझ पाते हैं एक ऊंचाई पर जब हम पहुंचते हैं तो हम इतने अकेले होते चले जाते हैं उस समय हमें जरूरत होती है एक ऐसे राजदार कि जिसके साथ हम अपनी मन की बाते शेयर कर सके 
जिंदगी कुछ ऐसे बनाये की हम सोने चांदी के कपों में चाय में ना पिए कहीं किसी छोटी दुकान पर भी हमें चाय मिलती हो तो हम वह भी पी सके जिसे कह कर हम अपने दिल को हल्का कर सके जिसे कहकर अपने तनाव को भूल सके और वह जो चीजें हम उसके साथ शेयर करें वह किसी तीसरे व्यक्ति को पता ना लगे तो ढूंढिए ऐसे दोस्त ऐसे यार ऐसे राजदार जिससे
हम अपनी सारी परेशानियां बांट सके
या किसी का दोस्त यार राजदार और हम प्याला बनो और सामने वाले को हिम्मत दें और कहे कि मैं हूं तेरे साथ और जब इंसान परेशानी में होता है तो आपकी यह तो बोले हुए शब्द उस इंसान का सारा तनाव दूर कर देते हैं जब भी आपको तनाव हो तो अपने दोस्त के साथ समय जरूर बताइए जो आपका बहुत करीबी हो आप किए शाम वह बहुत हसीन बनेगी जिंदगी बहुत हसीन बनेगी तो याद रखना पड़ेगा अगर आपको कोई तनाव से बाहर ला सकता है तो वह आपका दोस्त और उसके साथ भी हुई एक गर्म चाय हैं
कभी-कभी कोई पूछ लेता है कि मन को कैसे समझाएं कि स्ट्रेस नहीं लेना उसको कैसे आवाज दें कि स्ट्रेस लेने से जिंदगी में परेशानी हो जाएगी
मेरा यह मानना है मन को समझाने से पहले खुद को समझाना होगा खुद से सवाल करना होगा कि आप की शांति और सुकून की क्या कीमत है तनाव सिर्फ और सिर्फ परेशानी देता है और हमारे लिए नशे का काम करता है क्योंकि नशे में कई बार इंसान को मजा आने लगता है चाहे वह  मजा फिर शराब का हो शबाब का हो या तनाव का हो कई बार हम राई का पहाड़ बना लेते हैं और बिना बात की टेंशन में आ जाते हैं क्योंकि हमें उस तनाव में मजा आ रहा है हमसे हमें सामने वाले को तनाव में मजा आ रहा है तो अपने आप को इस नशे से निकालिए
सिर्फ इतनी सी बात हमें समझ नहीं होगी अपने काम अपने आसपास के जुड़े लोगों रिश्तो और ऑफिस की वजह से इतना अपने ऊपर स्ट्रेस मत डालिए कि आप आत्महत्या की ओर चल पड़े दो-चार लोगों से अगर आपकी नहीं भी बनती है तो कोई फर्क नहीं पड़ता अपने ऊपर कोई तनाव हावी मत होने दीजिए और अगर तनाव हावी होने लगता है तो अपने आसपास जो सबसे करीबी लोग हैं उनसे बात करिए जो मन करता है वह करिए  जिससे खुशी आपको मिलती है 
बंगले या गाड़ियों से अपनी सफलता का पैमाना मत बनाइए किस बात से आपको खुशी मिलती है सिर्फ और सिर्फ अपनी जिंदगी में उसको अहमियत दीजिए रिश्ते निभाए लोगों के साथ पर अपने साथ भी इमानदारी से रिश्ता निभाएं इश्क कीजिए हंसिए डांस कीजिए खुश रहिए मुस्कुराइए लोगों को मुस्कुराहट दीजिए जिंदगी में संतुलन और साहस बनाए रखिए बिना किसी डर के  मन को आशा भरे विचारों से बलवान बनाइए
कोई दुख या मुसीबत आ ही गई है तो क्या रोने से खत्म हो जाएगी उदास होने से वह मुसीबत खत्म हो जाएगी या आपके आत्महत्या करने से वह मुसीबत खत्म हो गई नहीं हुई वह आपके पीछे वालों के लिए और मुसीबतें खड़ी कर गई, अगर दुख का सामना प्रसन्नता के साथ किया जाए तो दुख बहुत जल्दी कट जाते हैं यदि आप अपनी जिंदगी में तनाव को हटाना चाहते हैं तो सबसे पहले दुख में मुस्कुराना सीखी अपना चेहरा हंसमुख बनाइए सामने वाले को यह महसूस मत होने दीजिए कि आप दुखी हैं दूसरों का तनाव बाटिए और अपने तनाव के लिए भी कुछ अच्छे दोस्त और संबंधियों की तलाश कीजिए जिंदगी जीने के लिए मिली है आत्महत्या करने के लिए नहीं मिले
युवा और कामयाब अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का इस तरह से चले जाना वाकई में बॉलीवुड के लिए एक बड़ा झटका है, भगवान sushant singh rajput को अपने चरणों में स्थान दे, ॐ शांति 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares