अपने बच्चों के साथ कैसे करें रिश्ता मजबूत

अपने बच्चों के साथ कैसे करें रिश्ता मजबूत

जिस तरह से हम अपने अपने रिश्तो को मजबूत करने के लिए बहुत सारी मेहनत करते हैं उसी तरह से बच्चे और माता पिता के रिलेशनशिप को भी मजबूत करने की जरूरत होती है कई बार हम इस रिलेशनशिप को ऐसे ही ले लेते हैं कि अपने ही बच्चे हैं कोई बात नहीं और बच्चों को हम अच्छा वक्त नहीं दे पाते कई बार माता-पिता दोनों के पास समय की कमी होती है क्योंकि दोनों ही अपने अपने ऑफिस में जाते हैं और घर में भी क्योंकि संयुक्त परिवार की प्रथा खत्म हो रही है तो मां-बाप भी साथ नहीं रहते जो आपके बच्चों को देख पाए या उनको अच्छी आदतें सिखा सिखा पाए मैं आपको यहां कुछ ऐसी Tips बताने जा रही हूं कि माता पिता और बच्चों का रिश्ता कैसे मजबूत किया जा सकता है

अपने बच्चों के साथ कैसे करें रिश्ता मजबूत

बच्चों के साथ खेलकूद में समय बिताएं

बच्चे और आप जब भी आपको वक्त मिले और घर पर हो तो कुछ समय उनके साथ जो बोर्ड गेम है उनको खेलने में व्यस्त करें कई बार बच्चों के साथ आप आउटडोर गेम भी खेल सकते हैं जैसे बैडमिंटन हैं फुटबॉल है उससे एक तो आपकी एनर्जी भी बढ़ेगी और दूसरा आप अपने बच्चे के साथ जब दोस्त बनकर उनके साथ खेलोगे तो रिश्ता भी मजबूत होगा और आपको बच्चे का व्यवहार भी समझ में आएगा कि जब बच्चा कई बार खेल में हारता है तो उसका रिएक्शन कैसा होता है वह उस हार को स्वीकार ता है या नहीं सवीकारता तो उस पर भी आपको काम करना होगा

 

बच्चों को दुलारिऐ

बच्चों को अगर आप अपना प्यार चाहे करना चाहते हैं तो उनको गले लगाइए उनकी पीठ थपथपाई ए क्योंकि रिश्तो को मजबूत अगर हमें करना है तो उसके तरीके भी हमें शानदार ढूंढने पड़ेंगे और कहा जाता है कि बच्चों को दुलार ने से बच्चों के अंदर बीमार पड़ने का खतरा कम हो जाता है साथ ही आप बच्चे को अपने प्यार का एहसास करा देते हैं

 

दिन की गतिविधियों के बारे में बात करें

बच्चे के साथ रात को सोने से पहले कुछ वक्त जरूर बताएं उनसे जरूर पूछें कि आज उनका दिन स्कूल में कैसा दया या आप ऑफिस गए थे और बच्चे घर थे तो पीछे से घर में बच्चे कैसे रहे और इससे आप बच्चों की सुख-दुख के बारे में जान पाएंगे और अगर उनको कोई अपनी परेशानी आ रही है तो उसमें भी आप उनकी सहायता कर पाएंगे और बच्चे को भी एहसास होगा कि माता पिता हमारा ध्यान रख रहे हैं

 

दिन में अगर घर में नहीं है तो रात को खाना इकट्ठे खाएं

आजकल की भागमभाग की जिंदगी में यह बड़ा मुश्किल हो गया है कि इस सब लोग इकट्ठे एक समय पर खाना खा सके पर हम कोशिश करके रात का समय ऐसा सेक्स कर सकते हैं कि बच्चे और आप एक समय पर खाना खाएं और अगर आपको डिनर का टाइम भी नहीं मिलता तो आप नाश्ते में इकट्ठा बच्चों के साथ बैठ सकते हैं और जब आप खाना खाने बैठते हैं तो आपको बच्ची टेबल मैनर्स को भी और खानपान की आदतों को भी सुधार सकते हैं साथ ही साथ उनके साथ रोजमर्रा के टॉपिक पर भी डिस्कशन कर सकते हैं

बच्चों के साथ अगर आपने अपने रिश्तो को सही रखना है तो उन पर हर पल प्यार बस सही है पर साथ ही साथ कभी कभी जरूरत पड़ने पर डांट भी जरूर लगाइए कहा जाता है कि ज्यादा प्यार भी बच्चों को कई बार बिगाड़ देता है बच्चों को यह अहसास जरूर कराइए कि आप उन्हें कितना प्यार करते हैं और बच्चों की आपकी जिंदगी में क्या अहमियत है पर इसके साथ-साथ उन्हें की एहसास कराना भी जरूरी है कि गलत चीजें उनकी बर्दाश्त नहीं की जाएगी आप को बच्चों के साथ रिश्ते में बैलेंस बनाकर चलना पड़ेगा तभी वह अपनी जिंदगी में सफलता की ऊंचाइयों को छू पाएंगे

Read This How to live every moment of life without worries

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares