Women empowerment poem चूड़ियां नहीं है कायरता का प्रतीक

Women empowerment poem चूड़ियां नहीं है कायरता का प्रतीक

Women empowerment poem चूड़ियां नहीं है कायरता का प्रतीक   अक्सर मर्दों को उनकी मर्दानगी जताने के लिए कहा जाता है क्या तुम इन हालातों का मुकाबला नहीं कर रख कर सकते हाथों में चूड़ियां पहन रखी है या अगर तुम इस मुसीबत का सामना नहीं कर सकते तो हाथ में चूड़ियां पहन कर घर … Read more

Exit mobile version